मंगलवार, 17 जनवरी 2023

राजस्थान की फिल्म सिटी

                        Business-Film productions house possibilities in Rajasthan,

 

 जवाईबान्ध जो की पश्चिमी राजस्थान की लाइफ लाईन कहा जाता हैं । पीने के पानी से लेकर किसानो के  सिंचाई मे भी यह अपना सम्पुर्ण योगदान देता है । पाली जिले के साथ साथ जोधपुर व जालोर व सिरोही जिलों की प्यास भुजाने की जिमेदारी यह निभा रहा है । यह पाली जिले के एक छोर पर स्थित हैं । जिस्की दुरी सुमेरपुर व शिवगंज तहसील से मात्र 4-5 किलोमिटर है । यह बान्ध पहाडियों से घिरा होने के कारण जंगली जानवरो के लिये एक सुरक्षीत जगह मानी जाती है इसलिए यंहा पे मुंबई व गुजरात से लोग घुमने व लापार्ड  सफ़ारी के लिये आते हैं । इसकी कनेक्टीवीटी रेलवे के द्वारा जयपुर,जोधपुर,गुजरात, मुम्बई के साथ जुडी हुई हैं । 

इस क्षेत्र के नजदीक सुथार के गांव कोलिवाड़ा जो की मन्दिरो के दरवाजे बनाने के लिये विख्यात हैं  साथ ही स्मॉल इंडस्ट्रीज से जुड़ाव  यंहा की अलग ही पहचान बना रहा है  यंहा की प्राकर्तिक सुन्दरता इस जगह को चार चांद लगती हैं । आस्था संस्थान के नरेंद्र आस्था ने के हवाले से जानकारी मिली की इसको राजस्थान सरकार ने राजस्थान का एकमात्र wellness सेंटर के लिये जमिन अल्लोट करके यंहा के लोगो को एक बहुत अच्छी सौगात दी है । जो की राजस्थान की फिल्म सिटी के ऐड जॉइंट मे स्वीकर्त की गई है ।। इसलिए इस जगह जमीन के भाव आसमान छु  रहे हैं ।। इस लिये अभी से लोग अपना आवास जवाई बान्द रोड के इर्द-गिर्द बना रहे हैं और एक से एक अच्छी आवासीय कॉलोनी, हॉस्पिटल,शिक्षण संस्थान सभी का तेजी से विकास हो रहा हैं । यह कहने मे कोई अतिसोक्ति नही होगी की आने वाले समय मे यह राजस्थान मे पहाड़ो की नगरी  Mount abu, झीलो की नगरी उदयपुर व रेगिस्तान के धोरो का शहर जैसलमेर  के लिये एक सेतू का काम फिल्म इंडस्ट्री व टूरिस्ट स्पॉट साबित के लिये साबित होगा ।।


2 टिप्‍पणियां:

If you have any suggestions for betterment.Pls let me know

चुंबकयुक्त उत्पादों के प्रयोग मात्र से गहन बीमारीयां छुमंतर

केवल सोने पानी पीने और हाथ की कलाई पर मैग्नेटिक ब्रासलेट पहनने से रोगों से चमत्कारी मुक्ति की सचाई             चुम्बकीय चिकित्सा हर आयु के न...